उत्तर प्रदेश : जनता की लड़ाई के लिए हज़ार बार जेल जाने लिए तैयार हैं : कांग्रेस महिला जिलाध्यक्ष

  • National News

ममता भारद्वाज

टीटीआई न्यूज़

आगरा 23 जुलाई 2020

 

आगरा कांग्रेस जिला अध्यक्ष मनोज दीक्षित को जमानत पर अस्थाई जेल से रिहा कर दिया गया। जब कि अन्य कांग्रेसी नेता अभी जेल में बंद है।

आपको बता दें कि बीते दिन कांग्रेसियों द्वारा टोरेंट के खिलाफ प्रदर्शन कर तालाबंदी कर दी थी कांग्रेसियों की मांग थी कि लॉकडाउन के समय का बिजली बिल तरीका माफ होना चाहिए किसी को लेकर प्रदर्शन किया गया था लेकिन प्रदर्शन के दौरान पुलिस और कांग्रेसियों में टकराव हो गया था।

महिला जिला अध्यक्ष के कपड़े तक भी फट गए थे पुलिस ने जिला अध्यक्ष सहित 8 कांग्रेसियों को गिरफ्तार कर संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज करते हुए जेल भेज दिया कांग्रेसियों द्वारा जमानत मंजूर कराई गई।

जमानत की जानकारी जैसे ही पुलिस को हुई भारी मात्रा में पुलिस अस्थाई जेल हरी पर्वत एमडी जैन इंटर कॉलेज पर पहुंच गई तो वहीं हजारों की संख्या में कांग्रेसी भी स्वागत के लिए पहुंच गए जैसे ही जिलाध्यक्ष गेट से बाहर निकली तो वहीं नारेबाजी शुरू हो गई और टोरेंट के साथ-साथ प्रशासन के खिलाफ मुर्दाबाद के नारे लगते रहे लेकिन पुलिस चुपचाप पड़ी देखती रही अन्य बंद कांग्रेसियों की गुरुवार को रिहाई की संभावना जताई जा रही है।

इससे एक बात तो साफ है कि जिस तरह प्रदर्शन के दौरान पुलिस ने महिला जिलाध्यक्ष के साथ मारपीट और गलत व्यवहार किया इससे प्रतीत होता है कि जिसकी लाठी होती है उसी की बहस होती है लेकिन विरोधी दल एक होते हुए दिखाई दिए तो पुलिस बैकफुट पर आती भी दिखाई दी।

आगरा में टोरेंट पावर के खिलाफ और पुलिस प्रशासन के खिलाफ अंदर ही अंदर विरोधी दलों में ज्वाला भड़कने लगी है किसी भी दिन यह ज्वाला ज्वालामुखी बनकर सड़कों पर फूट सकती है। 

TTI News

Your Own Network

CONTACT : +91 9412277500


अब ख़बरें पाएं
व्हाट्सएप पर

ऐप के लिए
क्लिक करें